• Search the Web

भारत चीन की कहानी – कर्नल बी बी वत्स की जुबानी – 3

India China Story

हम सहते रहे और वो हमें चमकाते रहे। भारत को अपनी कूटनीतिक अक्षम्य भूलों का सिला 1962 में चीन के हाथों लड़े गए आधे अधूरे युद्ध में पराजय से मिला और इससे भी शर्मनाक बात तो यह रही कि श्रीलंका जैैसे अदने से देश ने चीन के साथ हमारी मध्यस्थता कराई। भारत के यह मानने में कई साल गए कि चीन कभी भी हमारा स्वाभाविक मित्र  नहीं बन सकता। वह 1955 से लगातार अपने विस्तारवादी नीतियों पर खुले आम चल…

Continue reading

भारत चीन की कहानी – कर्नल बी बी वत्स की जुबानी – 2

India China and POK

मैदान मेेंं जीतते रहे , लेकिन मेज पर हारते रहे उन्नीस सौ बासठ की लड़ाई में हार और चीनी धोखे के बाद भारतीय राजनेताओं की सोच में बदलाव आया। वो यह कि देश की सीमा को सुरक्षित रखने के लिए मजबूत और सुसज्जित सेना की जरूरत है। इसी बदली हुई सोच का नतीजा 1965 में देखने को मिला। पाकिस्तान ने भारत की कमजोरी को भांपकर हमला किया लेकिन उसे बुरी तरह मुंह की खाना पड़ी। लाल बहादुर शास्त्री के नेतृत्व…

Continue reading

भारत चीन की कहानी – कर्नल बी बी वत्स की जुबानी – 1

India China and POK

भारत-चीन सीमा के  बीच जारी विवाद अब गहरे तनाव में तब्दील हो चुका है। लेकिन देश में मौजूद दूसरे मुद्दों की तरह लोगों का एक बड़ा तबका आधी अधूरी जानकारियों के आधार पर अपनी राय दूसरों पर थोपने की कोशिश कर रहा हैं। ऐसा करने वालों में देश के कई जिम्मेदार दल भी हैं जिनके कुछ नेता प्रधानमंत्री को घेरने के फेर में ऐसी बयानबाजी करते दिख रहे हैं जिससे यह आभास होता है कि मानों वह देश हित की…

Continue reading

Migraine – What and How of It ?

Migraine

Migraine, the pulsating pain or headache that usually happens on one side of the head has become a common problem. Healthy habits and simple medical treatments can stop migraines before they originate. Migraine is a disease of neurology which can show multiple symptoms. It is characterized by severe, weak headaches with symptoms such as nausea, vomiting, speech discomfort, confusion or tingling and light and sound sensitivity. Migraines are a common occurrence and affect every generation. Migraines may start in childhood,…

Continue reading

Need Vs Wants

Needs Vs Wants 3

There’s a significant difference between needs and wants when you decide to spend or invest your money. Everybody’s needs and wants vary. “Need” is something without which you can’t live. For example, food, clothes, house and such others. “Want” is what you like or wish to do/possess, but possibly can do without it. For Example, you want an iPhone, even though your current phone works well. A want is something you can afford, but you don’t need it. It is…

Continue reading

भारत चीन की कहानी – कर्नल बी बी वत्स की जुबानी – 9

India China Story

दक्षिण चीन सागर और भारत इससे पहले की हम दक्षिण चीन सागर के बारे में बातचीत करें यह जानना जरूरी है कि हमारे लिए दक्षिण चीन सागर की क्या अहमियत है ? एक ऐसी जगह जो हमारे देष से काफी दूर है और जिससे हमारी कोई सीमाएं नहीं लगती हैं वह चीन के प्रति हमारे लिए सामरिक दृष्टि से किस प्रकार महत्वपूर्ण है ? दक्षिण चीन सागर, चीन के दक्षिण में और इंडोनेषिया के उत्तर में 36 लाख स्क्वेयर किलोमीटर…

Continue reading

Frugal Living Vs Living Cheap

Frugal Vs Cheap 2

Individuals living cheap check only the price. They assume that less money is the only way to get profit, but they don’t take other factors into account. Frugal individuals know it’s safer, occasionally, to pay up. While a premium mattress can cost more, the added support and ergonomics can benefit those with back pain. The extra money paid at a premium shop for a pair of timeless jeans will lead to inner happiness. Individuals living cheap can not be as competent…

Continue reading

आर्मेनिया अजरबैजान युद्ध और भारत- कर्नल डाॅ. भारत भूषण वत्स (से.नि.)

Armenia Azerbaijan War 1

आर्मेनिया अजरबैजान युद्ध और भारत भूतपूर्व सोवियत संघ के विघटन के बाद बने 15 देषों में से अजरबैजान और आर्मेनिया भी हैं। सेंट्रल एषिया के दक्षिण काकेषस पर्वत के इलाके में स्थित अजरबैजान आर्मेनिया से तकरीबन तीन गुना बड़ा है। दोनों देषों के मध्य डेढ लाख की आबादी और सिर्फ 4400 वर्ग किमी क्षेत्रफल का लैण्ड लाॅक्ड इलाका नार्गोनो काराबाख हमारे हरियाणा प्रांत के बराबर है और दोनों देषों के बीच संघर्ष का कारण बना हुआ है। नार्गोनो काराबाख के…

Continue reading

भारत चीन और पी.ओ.के. – कुछ सम्भावनाएं- कर्नल डाॅ. भारत भूषण वत्स (से.नि.)

India China and POK

पाकिस्तान के करांची शहर के नजदीक ग्वादर पोर्ट से, अरब सागर में पहुँच कर अफ्रिका और पष्चिमी एषिया के देषों में अपना तैयार माल पहुँचाने के लिए और वहाँ से सस्ता कच्चा माल लाने के लिए 2013 में चीन ने चाईना पाकिस्तान इकाॅनोमिक काॅरिडोर (सीपैक) की योजना बनाई हुई है। सीपैक सड़क और रेल परिवहन नेटवर्क, ऊर्जा प्रोजेक्ट्स और स्पेषल इकाॅनोमिक जोन्स से सज्जित योजना है। लगभग 65 बिलियन डाॅलर के इस महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट में चीन को कई चुनौतियों का…

Continue reading

Cryptocurrencies- Are They the Future of Currencies ?

Cryptocurrencies 1

We are moving forward to a world which will soon be digitized entirely. Cryptocurrencies are knocking the door as the future of currencies. No wonder one day we wake up to find it as true. A technophile or a group of technophiles in the year 2009 by the pseudonym Satoshi Nakamoto developed the idea of digitalized money commonly known as cryptocurrency. Let us dig deeper into the idea of cryptocurrency and explore whether it has the potential to be considered…

Continue reading

मलक्का जलसंधि और वैष्विक व्यापार की दुविधा – कर्नल डाॅ. भारत भूषण वत्स (से.नि.)

Malacca Strait

मलेषिया के मलक्का बादषाही के नाम पर, मलेषिया और इंडोनेषिया के सुमात्रा द्वीप के मध्य स्थित मलक्का जलसंधि आजकल सुर्खियों में है। हिंद महासागर से दक्षिण चीन सागर होकर प्रषांत महासागर को जोड़ने वाली यह तंग जलसंधि 1.7 समुद्री मील चैड़ी और 550 समुद्री मील लम्बी है। चीन के अतिरिक्त दक्षिण चीन सागर में स्थित ताईवान, फिलिपिंस, मलेषिया, ब्रुनेई, इंडोनेषिया, सिंगापुर और वियेतनाम के अलावा जापान, दक्षिण कोरिया और वैष्विक व्यापार के लिए भी मलक्का जलसंधि महत्वपूर्ण है। चीन दक्षिण…

Continue reading

भारत और चीन – मौजूद स्थिति का आंकलन – कर्नल डाॅ. भारत भूषण वत्स (से.नि.)

भारत और चीन 2

13 दिसम्बर 2001 को लष्कर-ए-तोयबा और जैष-ए-मोहम्मद आतंकवादी संगठनों ने जब लोकतन्त्र की नींव, हमारी संसद पर आक्रमण किया तो प्रधानमंत्री स्व. श्री अटल बिहारी बाजपेयी ने तुरंत फैसला लेते हुए भारतीय फौजों को सीमा पर तैनाती का आदेष दे दिया। भारतीय सेना ने भी त्वरित गति से लामबंदी करके पाकिस्तानी सेना को भौचक्का कर दिया। पाकिस्तानी सेना अपनी अफगानिस्तान से लगी पष्चिमी सीमा पर तैनात फौजों को भारत से लगी पूर्वी सीमा पर षिफ्ट नहीं कर पाई और जब…

Continue reading

भारत चीन की कहानी – कर्नल बी बी वत्स की जुबानी – 6

India China Story

भारतीय सेना बनाम् पी.एल.ए. युद्ध में मुख्यतः दो चीजों अहम होती हैं। पहली सैनिकों की सोच, मानसिक शक्ति और देष प्रेम की भावना। दूसरी सैनिकों के पास युद्ध के लिए हथियारों की मारक क्षमता। एक प्रसिद्ध कहावत है कि हथियार से ज्यादा हथियार को चलाने वाली की मानसिक शक्ति और क्षमता ज्यादा महत्वपूर्ण होती है। अगर ऐसा नहीं होता तो सारागढ़ी के युद्ध में (फिल्म केसरी) 21 सिख जवान हवलदार ईषर सिंह के नेतृत्व में 12000 से ज्यादा अफगान कबालियों…

Continue reading

  • Delight